📲
घर का पोजेशन लेने से पहले ये 10 चीजें जरूर चेक कर लें

घर का पोजेशन लेने से पहले ये 10 चीजें जरूर चेक कर लें

घर का पोजेशन लेने से पहले ये 10 चीजें जरूर चेक कर लें
Clogged drains and seepages may totally mar the joy of being in a new home. (Pixabay)
घर बनने के बाद पोजेशन मिलने की खुशी कोई बयां नहीं कर सकता। लंबे समय के इंतजार के बाद खुद के घर में रहना हर किसी का सपना होता है। लेकिन इस खुशी के बीच आपको थोड़ी सावधानी बरतने की जरूरत होती है। इससे आप भविष्य में होने वाली परेशानियों से बच सकते हैं। आज हम आपको वह 10 बातें बताने जा रहे हैं, जिन्हें आपको पोजेशन लेते वक्त ध्यान रखना चाहिए। 
 
दस्तावेज: प्रॉपर्टी के दस्तावेज सबसे जरूरी होते हैं। घर की चाबी लेने से पहले सुनिश्चित कर लें कि आपको सभी जरूरी दस्तावेजों के ओरिजनल और फोटोकॉपी मिल चुकी हैं। इन सभी दस्तावेजों पर साइन होने चाहिए। इन कानूनी दस्तावेजों में शेयर सर्टिफिकेट, सेल डीड, सोसाइटी डॉक्युमेंट्स, मंजूर किया गया प्लान और एम्कम्ब्रन्स सर्टिफिकेट शामिल होते हैं। आपको यह भी सुनिश्चित करना होगा कि प्रॉपर्टी आपके नाम से स्थानीय निकाय संस्था में रजिस्टर्ड हो। साथ ही बिल्डर द्वारा दस्तावेजों में यह भी लिखा जाना चाहिए कि प्रॉपर्टी आपको ट्रांसफर कर दी गई है।   
 
सुविधाएं: घर बेचते वक्त बिल्डर ने वादों के पुल बांध दिए होंगे, लेकिन चेक कर लें कि जो आपसे कहा गया था, वह आपको दिया गया है या नहीं। 
 
ड्रेनेज जरूर देख लें:  भरी हुई नालियां और गंदे ड्रेनेज नए घर में आपका मजा किरकिरा कर सकते हैं। इसलिए प्रॉपर्टी की बालकनी, बाथरूम और किचन का ड्रेनेज जरूर देख लें। यह भी जांच लें कि बाथरूम या किचन में कहीं से लीकेज तो नहीं हो रहा।
 
फीटिंग: प्रॉपर्टी में लगे इलेक्ट्रिकल स्विचबोर्ड, डोर बटन, बाथरूम फीटिंग्स इत्यादि चेक करना भी बहुत जरूरी है। दरारें, छेद आदि की जांच करते वक्त टाइलिंग पर भी ध्यान दें। 
 
दीवारें: नए घर में जाने और पोजेशन लेने से पहले यह जरूर देख लें कि दीवारों पर किसी तरह की दरारें, खराब पेंट, लीकेज, टूट-फूट तो नहीं हो रही। 
 
प्लग पॉइंट्स: आपके घरों के सॉकेट, प्लग्स और बल्ब होल्डर्स मेन सप्लाई से कनेक्ट होने चाहिए और सभी स्विच और प्लग पॉइंट्स ठीक से काम कर रहे हैं, यह सुनिश्चित कर लें। यह भी देखें कि मेन स्विच बंद करने के बाद सप्लाई खुद-ब-खुद पावर बैक अप सिस्टम पर शिफ्ट हो रही है या नहीं। अगर आपने कुछ एक्स्ट्रा सॉकेट/स्विच मांगे हैं तो क्या वह लगाए हैं, यह भी सुनिश्चित करना जरूरी है। 
 
गेट और खिड़कियां: मंजूर किए गए प्लान के तहत घर में सभी तय जगहों पर खिड़कियां और दरवाजे लगाए गए हैं और उनकी क्वॉलिटी बहुत मंजूर किए गए प्लान के तहत है। यह भी देख लें कि दरवाजे और खिड़कियां अच्छी तरह खुल या बंद हो रहे हैं। 
 
सिक्योरिटी फीचर्स: यह देखना बेहद जरूरी है कि घर बनाते वक्त प्राधिकरण द्वारा मंजूर किए गए सभी सेफ्टी स्टैंडर्ड्स का ध्यान रखा गया है। इसके अलावा आपातकालीन रास्ते और स्मोक डिटेक्टर ठीक से काम रहे हैं, इसकी जांच बेहद जरूरी है। अपार्टमेंट की चाबियां और लॉक भी देख लें। 
 
एयर कंडीशनर: आपके कमरे की स्पेसिफिकेशन के हिसाब से ही स्पिलिट एयर कंडीशनर लगाए जाने चाहिए। उदाहरण के तौर पर अगर आपका कमरा बड़ा है और रजिस्टर एक कोने में है तो यह आपके लिए ठीक नहीं है। इस चीज की पूछताछ भी कर लें कि AC का पानी कहां से निकलेगा, क्योंकि बेकार फीटिंग आपके घर की दीवारें खराब कर सकती हैं। 
 
डिजिटल कनेक्शन: अगर आपने एेसे घर में निवेश किया है, जिसमें लाइटिंग कंट्रोल, सिक्योरिटी कैमरा और तापमान कंट्रोल करने जैसे डिजिटल फीचर्स हैं तो यह देख लें कि ये सब सही तरीके से काम कर रहे हैं। 
Last Updated: Mon Jul 18 2016

समान आलेख

@@Wed May 13 2020 19:59:51